अधिक दाम पर आलू- प्याज बेचने वाले थोक व्यापारियों पर कार्रवाई

0
31

कोरबा (नईदुनिया न्यूज)। कोविड-19 वायरस के बढ़ते प्रकरणों को नियंत्रित करने के लिए जिला प्रशासन ने 12 अप्रैल को दोपहर तीन बजे से संपूर्ण जिले में पूर्ण तालाबंदी का आदेश जारी किया है। होने वाले लाकडाउन से पहले सब्जियों और जरूरी राशन आदि सामानों की खरीददारी के लिए बड़ी संख्या में लोग बाजारों में उतर आए हैं। आलू, प्याज समेत अन्य सामग्री की अधिक दाम में बिक्री किए जाने की शिकायत पर व्यापारियों के प्रतिष्ठानों में छापामार कार्रवाई की गई।

कोरबा क्षेत्र में अधिकारियों के दलों ने बाजारों में उतरकर अधिक दामों पर सब्जियों के बिक्री करते पाए जाने पर थोक विक्रेताओं पर जुर्माना भी लगाया है। अन्य दिनों की अपेक्षा उंचे दामों पर आज आलू की थोक बिक्री करते पाए जाने पर नगर निगम और खाद्य विभाग के अधिकारियों की टीम ने पुराना कोरबा स्थित केशरवानी आलू भंडार के संचालक पर दो हजार रूपये का जुर्माना लगाया। इसके साथ ही पुराना कोरबा की ही एस. के. ओनियन प्याज थोक विक्रेता पर भी सामान्य दिनों से ज्यादा दामों पर प्याज बेचने पर दो हजार रूपये अर्थदंड रोपित किया गया है। कोरबा नगर निगम के सभी जोनों, नगर पालिका परिषद दीपका, कटघोरा, और पाली में भी प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा बाजारों में पहुंचकर थोक एवं चिल्हर विक्रेताओं के सब्जियों तथा राशन आदि के स्टाक और कीमतों की जानकारी ली गई। अधिकारियों की यह जांच और छापामार कार्रवाई कल दोपहर तीन बजे तक भी जारी रहेगी। कोरबा जिले के संपूर्ण नगरीय क्षेत्रों के साथ-साथ जिले के पांचों तहसीलों के ग्रामीण क्षेत्रों में भी आवश्यक वस्तुओं की कालाबाजारी और अधिक दाम पर बिक्री रोकने के लिए भी अधिकारी आवश्यकतानुसार क्षेत्रों का भ्रमण करके निगरानी रखेंगे। ताकि कोई व्यापारी-दुकानदार सब्जी-राशन और अन्य जरूरी चीजों को एमआरपी से अधिक दामों में लोगों को न बेच सकें।

व्हाट्सअप के माध्यम से नियमित रिपोर्टिंग

कलेक्टर कौशल ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि यदि कोई दुकानदार, संस्थान आवश्यक वस्तुओं को एमआरपी या सामान्य दिनों से अधिक दाम में बेचते हुए पाए जाते हैं तो उसके विरूद्ध भारतीय दण्ड संहिता 1860 के तहत कड़ी कानूनी कार्यवाही की जायेगी। कलेक्टर कौशल ने गठित टीम के अधिकारीगण को यह भी निर्देशित किया है कि किसी भी माध्यम से प्राप्त शिकायत, फिडबैक इत्यादि पर त्वरित एवं प्रभावी कार्यवाही सुनिश्चित करेंगे तथा व्हाट्सअप के माध्यम से नियमित रिपोर्टिंग करेंगे।

कुसमुंडा एसईसीएल वर्कशाप में भी जांच

अधिकारियों की एक अन्य टीम ने टीपी नगर स्थित सिटी सेंटर माल के रिलायंस सुपर मार्केट का औचक निरीक्षण किया और बिना मास्क और फिजिकल डिस्टेंसिंग के खरीदी-बिक्री करने पर संचालक के विरूद्ध चालानी कार्रवाई की। कुसमुंडा एसईसीएल वर्कशाप में भी सेक्टर अधिकारियों ने पहुंचकर कर्मचारियों के बीच फिजिकल डिस्टेंसिंग, मास्क पहनने सहित अन्य कोविड प्रोटोकालों के पालन संबंधी जांच की। कोरबा नगर निगम क्षेत्र में आज बिना कोविड प्रोटोकाल का पालन किए खरीददारी करते 332 लोगों पर 83 हजार 450 रूपये का फाइन भी लगाया गया है।

हिसाब से सब्जी-राशन खरीदने की सलाह दी

लाकडाउन से पहले कोरबा शहर सहित जिले के दूसरे नगरीय निकायों में सब्जी-राशन आदि की खरीददारी के लिए लोगों की भीड़ अचानक बढ़ गई है। ऐसे में वरिष्ठ अधिकारियों को भी लोगों को कोरोना संक्रमण से बचने के उपाए और ऐहतियात बरतने की समझाईश देने सड़कों पर उतरना पड़ा। अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी ने लोगों को यह भी समझाया कि वे अपनी जरूरत के हिसाब से ही सब्जी और राशन की खरीददारी करें। जयवर्धन ने कहा कि जरूरत से ज्यादा चीजों की खरीददारी से मार्केट में उन चीजों की कमी होगी और जरूरतमंद लोगों को राशन-सब्जी नहीं मिल पाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here