मेडिकल कॉलेज में वेंटिलेटर में ऑक्सीजन ख़त्म होने के दौरान 4  नवजात मासूमों की गई जान

अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज में वेंटिलेटर पर ऑक्सीजन खत्म होने से चार नवजात बच्चों की हुई मौके पर मौत, ये सभी बच्चे अस्पताल के एसएनसीयू वार्ड में भर्ती थे | 

बताया जा रहा है कि, छत्तीसगढ़ राज्य के अंबिकापुर जिले में स्थित मेडिकल कॉलेज में देर रात वेंटिलेटर में ऑक्सीजन ख़त्म होने के कारण चार मासूमों की जान जा चुकी है, इस घटना के दौरान अस्पताल  के प्रशासन में भारी उथल-पुथल मचा हुआ है, मृतक बच्चों के परिजनों का यह आरोप है कि, रात में चार घंटे तक बिजली ना होने के कारण जो वेंटिलेटर में ऑक्सीजन की सप्लाई नहीं हो पाई और इस पर मेडिकल कॉलेज में संज्ञान भी नहीं लिया |

साथ ही यह भी पता चला है कि, मृतक बच्चों और उनके परिवार वालों के आरोपों को मेडिकल कॉलेज प्रबंधन ने बड़ी चालाकी से खारिज कर दिया है, मेडिकल कॉलेज प्रबंधन का कहना है कि, वेंटिलेटर में ऑक्सीजन ख़त्म होने के कारण नवजात मासूमों की जान नहीं गई हैं, घटना की जानकारी मिलते ही अंबिकापुर जिला कलेक्टर भी मौके पर पहुंच कर जांच पड़ताल कर रही है, घटना की जानकारी मिलते ही स्वास्थ्य मंत्री टी एस सिंहदेव भी मेडिकल कॉलेज के लिए निकल चुके हैं |

स्वास्थ्य मंत्री का कहना जांच के बाद होगी कार्रवाई

स्वास्थ्य मंत्री टी एस सिंहदेव ने कहा की सूचना आई है, अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज में रात के समय एसएनसीयू वार्ड में भर्ती नवजात बच्चों की रात में बिजली ना होने से वेंटिलेटर में ऑक्सीजन ना पहुंचने पर मौत हो गयी, यह भी कहा कि, मैंने स्वास्थ्य सचिव को जांच दल गठित करने और जांच प्रक्रिया प्रारम्भ करने का आदेश दिया है, और अधिक जानकारी के लिए मैं खुद अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज जा रहा हूं, आगे की कार्रवाई जांच के बाद सुनिश्चित की जाएगी |

जिला कलेक्टर कुंदन कुमार ने बताया है कि, जांच शुरू कर दी गई है, और मेडिकल कॉलेज में घटना के दौरान स्थित कर्मचारियों से भी पूछताछ की जा रही है, पर अभी तक पता नहीं चल पाया है की, बच्चों की मौत कैसे हुई,  यह भी कहा जा रहा है कि, रात में बिजली ना होने से किसी भी प्रकार की समस्या नहीं हुई हैं | 

मुख्यमंत्री को दी गई घटना की जानकारी 

स्वास्थ्य मंत्री टी इस सिंहदेव ने अंबिकापुर के मेडिकल कॉलेज में हुई घटना की पूरी जानकारी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी को भी दी, बताया जा रहा है की, स्वास्थ्य मंत्री टी एस सिंहदेव खुद इस घटना की पल-पल की खबर ले रहे है, और मुख्यमंत्री को सूचित कर रहें है, मुख्यमंत्री घटना की जारकारी सुनते ही स्वास्थ्य मंत्री और उनकी टीम के लिए एक हेलीकॉप्टर की व्यवस्था की है, जिससे स्वास्थय मंत्री और उनकी टीम पहुंचकर घटना की पूरी जांच पड़ताल करेंगे और परिजनों से भी पूछताछ करेंगे |

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *