हल्दी के ऐसे फायदे जानकर चौंक जाएंगे आप

0
7

हल्दी (Turmeric) तो आप सब्जी आदि में रोज ही प्रयोग करते होंगे. हल्दी एक जड़ी-बूटी है जो मसाले के तौर पर प्रयोग की जाती है. भारत में तो लगभग हर एक रसोईघर में यह मिल जाती है. आयुर्वेद नैचुरोपैथी में इसे अनेक बीमारियों में दवा के तौर पर प्रयोग किया जाता है. आइए आपको बताते हैं इसके तमाम बीमारियों में प्रयोग करने के तरीके, जिन्हें जानकार शायद आप चौंक जाएं. गर्मी में मौसम में सिर में फुंसियां निकलना एक आम समस्या है. फुंसियों के कारण सिर में तेज खुजली होती है.

इससे आराम पाने के लिेए हल्दी के साथ दारुहरिद्रा, भूनिम्ब, त्रिफला, नीम चंदन पीसकर सिर में मालिश करें तो फुंसियों में आराम मिलेगा. इसके अलावा आंखों में दर्द होने पर या किसी तरह का संक्रमण यानी इनफेक्शन होने पर हल्दी का प्रयोग करना चाहिए. 1 ग्राम हल्दी को 25 मिली पानी में उबालकर छाने लें. इससे बार-बार आखों में डालने से आंखों के दर्द से आराम मिलता है.

पायरिया होने पर हल्दी में सरसों के तेल मिलाकर मसूड़ों की मालिश करने से तमाम रोग दूर होते हैं. खांसी आने पर हल्दी को भूनकर चूर्ण बना लें. 1-2 ग्राम हल्दी चूर्ण के शहद या घी के साथ खाएं. डायबिटीज होने पर 2 से 5 ग्राम हल्दी का चूर्ण, आंवला रस शहद में मिलाकर खाना डायबिटीज में फायदेमंद होता है. वहीं, स्किन डिजीज में भी हल्दी बहुत फायदेमंद होती है. गोमूत्र में मिलाकर दिन में दो से तीन बार सेवन करें. इसके अलावा दाद, खुजली आदि में हल्दी का लेप खुजली वाली जगह पर लगाएं तो फायदा होगा.

इसके अलावा शरीर में अगर सूजन हो तो हल्दी का उपयोग करके सूजन कम कर सकते हैं. इसके लिए हल्दी, पिप्पली, पाठा, छोटी कटेरी, चित्रकमूल, सोंठ, जीरा मोथा को बराबर मात्रा में मिलाकर चूर्ण बना लें. इसे कपड़े में छानकर अलग रख लें. इस चूर्ण का 2-2 ग्राम गुनगुने जल में मिलाकर खाने से सूजन में कमी आती है.

इसके अलावा तमाम बीमारियों में हल्दी का नियमित सेवन बहुत ही फायदेमंद माना जाता है. मुंहासे होने पर, घाव ठीक करने में, मुंह के छालों के ठीक करने में, सूखी खांसी होने पर, जोड़ों में दर्द होने पर, पेट में कीड़े होने पर, पेट में गैस होने पर, पेट में कीड़े होने पर, अल्सर होने पर हल्दी का सेवन बहुत फायदा करता है. यही नहीं चोट लगने हल्दी को सरसों के तेल में गर्म करके पट्टी बांधने से बहुत जल्दी लाभ होता है. वहीं, मसल्स के चोटिल होने पर यानी जिसे गुम चोट भी कहते हैं, गर्म दूध में हल्दी डालकर पीने से लाभ मिलता है.

JOIN WHATSAPP GROUP:- https://chat.whatsapp.com/DMsBZuMUFRwBk7HnYRvmvB
(अगर आपको कोई समाचार, संदेश ,पर्यटन स्थल, रेसिपी या किसी भी प्रकार की जानकारी डलवाना या विज्ञापन देना चाहते हैं तो आप हमारे इस नंबर पर व्हाट्सएप कर सकते हैं 7987730401)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.