कांगेस नेता की गोली मारकर की हत्या:हिस्ट्रीशीटर संजू त्रिपाठी की कार रोककर किए कई फायर, हमलावर फरार

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में कांग्रेस नेता संजू त्रिपाठी की दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या कर दी गई है। संजू की हत्या शाम चार बजे के करीब सकरी बाईपास चौक में उस वक्त की गई जब वो फार्म हाउस से अपने घर लौट रहा था। एक ब्रेकर के पास उसकी एमजी हेक्टर कार धीमी हुई और दोनों तरफ से हमलावरों ने गोलियां चलाईं। संजू के सिर और शरीर पर तीन से अधिक गोलियां लगी और उनकी मौके पर मौत हो गयी ।

जानकारी के मुताबिक बताया जा रहा है कि, कांग्रेस के पूर्व जिला महामंत्री संजू त्रिपाठी बुधवार दोपहर को अपने तावाताल गांव के फार्म हाऊस से लौटकर बिलासपुर के कुदुदंड इलाके में स्थित अपने घर जा रहे थे। वो यहां बिलासपुर-मुंगेली रोड पर सकरी बाईपास के पास पहुंचे थे। जहां एक ब्रेकर था। जिसके कारण उनकी कार धीमी हुई थी। इसी मौके का फायदा उठा कर 2 कार में बदमाश पहुंचे और एक के बाद एक 3 से ज्यादा गोलियां उनके सिर पर दाग दी।

घटना के बाद फायरिंग की आवाज सुनकर मौके पर अफरा तफरी मच गई। आस-पास के लोगों ने अपनी दुकानें बंद कर दी थीं। वहीं इसकी सूचना तुरंत पुलिस को दी गई। जिसके बाद एसएसपी पारुल माथुर समेत पुलिस के सीनियर अधिकारी मौके पर पहुंचे हुए हैं। कार की शीशें पूरी तरह टूट चुके हैं। परिजनों को भी इस बारे में जानकारी दे दी गई है। कहा जा रहा है कि, बदमाशों ने अपना चेहरा ढंक रखा था।  जिसके कारन लोग उन्हें पहचान नहीं पाए। 

पुलिस ने गोलियों के टुकड़े बरामद किए हैं। फॉरेंसिक की टीम को भी बुलाया गया है। बताया जा रहा है कि, यह पूरी वारदात जमीन विवाद को लेकर शुरू हुई थी। मगर पुलिस ने इस बात की कोई जानकारी अभी नहीं दी है। बताया गया है कि, संजू त्रिपाठी के ऊपर पहले से ही कई केस दर्ज हैं। कुछ समय पहले उसने अपने भाई से भी विवाद किया था।

7 महीने पहले बिलासपुर में संजू त्रिपाठी ने जमीन विवाद में अपने ही भाई पर साथियों के साथ मिलकर डंडा और फरसा से हमला किया था। इस दौरान बचाव कर रहे कांस्टेबल पर भी हमला किया, उसने भागकर अपनी जान बचाई। भाई को अपोलो अस्पताल के ICU में भर्ती कराया गया है। युवक ने अपने कांस्टेबल दोस्त के जरिए जमीन विवाद सुलझाने के लिए भाई को बुलाया था। घटना सिविल लाइन थाना क्षेत्र की थी। पुलिस ने इस गंभीर मामले में दोनों पक्षों पर साधारण मारपीट का केस दर्ज किया था।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *