सभा में हेलमेट पहनकर पहुंचे पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर ने कहा आजादी के लिए एक भी कांग्रेसी ने बलिदान नहीं दिया

छत्तीसगढ़ के पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर ने यह कहा है कि आजादी के लिए एक भी कांग्रेसी ने बलिदान नहीं दिया है। लाला लाजपत राय को छोड़कर खड़गे जी एक भी कांग्रेसी का नाम बता दें। जिसने बलिदान दिया हो। दुर्ग में आयोजित सभा में छत्तीसगढ़ के पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर हेलमेट पहनकर पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने दुर्ग पुलिस पर भी हमला बोलते हुए कहा कि यहां की पुलिस सिर्फ कुत्ता देख रही है। पूर्व मंत्री इन दिनों लगातार दुर्ग जिले का दौर में बिजी चल रहे हैं। वो जिले के अलग-अलग विधानसभा में पहुंचकर जनता को संबोधित कर रहे हैं। इसी कड़ी में मंगलवार को दुर्ग के पटेल चौक के पास सभा को संबोधित करने छत्तीसगढ़ के पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर पहुंचे थे।

बताया जा रहा है कि अजय चंद्राकर जैसे ही मंच में पहुंचे। वैसे सभी जनता उन्हें हैरानी से देखने लगे। उसका कारण यह था कि उन्होंने क्रिकेट मैच में पहनने वाला हेलमेट लगा रखा था। दरअसल, एक दिन पहले भिलाई के सुपेला में सभा का आयोजन किया गया था | जिसके दौरान किसी ने उनके ऊपर पत्थर से हमला कर दिया था। जिसके विरोध में मंगलवार को उन्होंने हेलमेट लगाया था।

इसके बाद अजय चंद्राकर इस विषय पर पत्रकारों से भी चर्चा की। इसी दौरान उन्होंने कहा कि अमर्यादित भाषा का इस्तेमाल कांग्रेस ने ही राजनीति में बढ़ाया है। अजय चंद्राकर ने कहा कि हेलमेट पहनकर मैंने कल की घटना का विरोध छत्तीसगढ़ की जनता के सामने जताया है। मैंने ये करके गृह मंत्री को बताया है कि जितनी पुलिस बनी है। उसे कम से कम दुर्ग जिले के जनता के लिए बनाया जाए। अभी जो पुलिस है, उसे वीआईपी ड्यूटी से ही फुरसत नहीं है।

यहां की पुलिस किसी का कुत्ता देख रही है या तो किसी का बाल-बच्चा औरत देख रही है। या तो खाली घर की रखवाली कर रही है। इसलिए हम यह मांग करते हैं कि जनता के लिए अलग पुलिस दल की स्थापना जाए। अजय चंद्राकर ने कहा कि जब मेरे ऊपर दिन दहाड़े ऐसे हमला हो सकता है तो अपराधियों के हौसले कितने बुलंद होंगे उसकी कल्पना भी हम नहीं कर सकते हैं। इसलिए जनता की सुरक्षा के लिए अलग पुलिस दाल गठित की जाए। 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *