बिलासपुर: लाश की तलाश में खुदाई, फसल बर्बाद, खेत में पानी भरने से रोकी गई जांच, पु​लिस को अब जमीन सूखने का इंतजार

बिलासपुर जिले में फिल्म दृश्यम की तरह एक हत्या पुलिस के लिए मिस्ट्री बन गई है. तीन साल पहले लापता युवक की लाश की तलाश में पुलिस ने धान की खड़ी फसल बर्बाद कर दी. फिर भी शव बरामद नहीं हो सका है. जमीन गिली है, जिसमें पानी भर जा रहा है. पुलिस अब जमीन सूखने के बाद नए सिरे से शव की तलाश करेगी. संदेहियों को छोड़ दिया गया है और उन्हें घर पर ही रहने की हिदायत दी गई.

मल्हार निवासी विकास कुमार कैवर्त्य (19) साल 2020 में धनतेरस के दिन से लापता हो गया था. परिजन ने उसकी काफी तलाश की, लेकिन वो नहीं मिला. इसके बाद परिवार वालों ने थाने में गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराई. जांच चलती रही, लेकिन 3 साल तक उसका कुछ पता नहीं चल सका.

लापता विकास के नहीं मिलने से परेशान परिजन थाने का चक्कर काटते रहे और उसकी तलाश करने की गुजारिश करते रहे. पिछले दिनों पुलिस ने नए सिरे से जांच को आगे बढ़ाते हुए कुछ संदेहियों से पूछताछ की. इस दौरान पुलिस को पता चला कि युवक की हत्या कर दी गई है.

हत्या करने वालों में उसके दोस्तों का नाम सामने आया, जिसके बाद पुलिस ने लापता युवक के दो नाबालिग दोस्तों से पूछताछ की, तब दोनों ने जुर्म कबूल कर लिया. उन्होंने पुलिस को बताया कि विकास की गला दबाकर हत्या कर दी थी, जिसके बाद लाश को खेत में दफन कर दिया था.

दोनों संदेही लड़कों ने पुलिस को बताया कि हत्या में उसके दो अन्य दोस्त भी शामिल थे. जिसमें से एक नाबालिग कमाने के लिए दूसरे राज्य में पलायन कर लिया है. चौथा युवक पुलकेश राजभानु हत्या के केस में जेल में बंद है.

दोनों के बयान के आधार पर पुलिस ने SDM से अनुमति लेकर खड़ी फसल के बीच खेत की खुदाई शुरू की. बीते मंगलवार और बुधवार को दो दिन की खुदाई के बाद भी पुलिस को शव नहीं मिला.

खेत में धान की फसल लगी है. जिसके बाद भी पुलिस ने शव निकालने के लिए खुदाई करवाई. लेकिन, खुदाई के बाद पानी भरने के कारण परेशानी होने लगी. वहीं, फसल भी बर्बाद हो रही थी. अब तक शव नहीं मिल सका है. ऐसे में पुलिस ने शुक्रवार को खेत की खुदाई बंद करा दी. अब फसल कटने और जमीन सूखने के बाद खुदाई कराने का फैसला लिया.

चौकी प्रभारी विष्णु यादव ने बताया कि संदेही लड़कों ने पूछताछ में बताया है कि उन्होंने खेत में 5-6 फीट खड्‌ढा खोदकर लाश को दफन किया था. जिस पर पुलिस ने खेत में धान की फसल के बीच 15 से 20 लंबाई और चौड़ाई के बीच खुदाई कराई. लेकिन, शव नहीं मिला.

DSP हेडक्वार्टर उड्‌डयन बेहार ने बताया कि खुदाई से किसान की फसल को नुकसान पहुंचा है. अब दूसरी जगह खुदाई करने पर ज्यादा नुकसान होगा और पानी भी भर रहा है. ऐसे में अब फसल कटने और जमीन सूखने के बाद खेत की खुदाई कर शव की तलाश की जाएगी.

तब तक संदेही लड़कों को उनके परिवार वालों को सौंप दिया गया है. साथ ही उन्हें पुलिस की निगरानी में रखा गया है और बिना पूछे कहीं नहीं जाने की हिदायत दी गई है.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *