जून में आएगा मानसून लेकिन फिर भी सताएगी गर्मी, कम होगी बारिश

4 जून को केरल में मानसून की इंट्री के साथ ही बारिश का सिस्टम शुरू हो जाएगा. पश्चिम बंगाल, झारखंड होते 13 से 17 जून के बीच बिहार में मानसून दस्तक देगा. इस दौरान प्रदेश के अधिकांश हिस्से में हल्की बारिश होने की संभावना है. बिहार में मानसून की इंट्री के बावजूद जून के तीसरे सप्ताह तक गर्मी का प्रभाव रहेगा.

दिन और रात का तापमान सामान्य से अधिक होगा और कई जिलों में हीट वेव का असर रहेगा. तेज धूप और वातावरण में आर्द्रता अधिक होने से उमस भरी गर्मी का अहसास होगा. इसके प्रभाव से जून में सामान्य से कम बारिश होने का अनुमान है. इस दौरान बिहार के सभी हिस्से में 14 से 20 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से पूर्व और उत्तर-पूर्व हवाएं गर्म हवाएं चलेंगी. इससे हीट वेव का असर बना रहेगा.

बिहार के साथ ही उत्तर प्रदेश, झारखंड, महाराष्ट्र, ओडिशा, तेलंगाना, छत्तीसगढ़, आंध्रप्रदेश, पश्चिम बंगाल, मध्यप्रदेश, सिक्किम, पंजाब, हरियाणा, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली में जून में सामान्य से कम बारिश होने की संभावना है. जबकि, तमिलनाडु, कर्नाटक, राजस्थान, लद्दाख, उत्तर पूर्वी भारतीय राज्यों के कुछ हिस्सों में सामान्य से अधिक बारिश होगी. इस दौरान जिन जगहों पर कम बारिश होगी, वहां अधिक गर्मी पड़ेगी.

6 जून को अरब सागर में एक निम्न दबाव का क्षेत्र बनने के आसार हैं. इसके प्रभाव से मानसून की गति धीमी होगी. इससे जून में औसत से कम बारिश होने की संभावना है. हालांकि, पश्चिमी विक्षोभ पहाड़ों पर सक्रिय है. इससे पहाड़ों पर भारी बारिश और पंजाब, हरियाणा, दिल्ली में हल्की बारिश के आसार हैं.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *