राहुल बनकर नूर आलम दे रहा था युवती को धोखा, लोगों ने की जमकर धुनाई

सरगुजा जिले में अपना नाम बदलकर युवती को धोखा देने वाले आरोपी की अंबिकापुर जिला कोर्ट के बाहर जमकर पिटाई की. 46 वर्षीय युवक नूर आलम ने युवती को अपना नाम राहुल सिंह बताया था और उसे धोखे में रखकर मैरिज सर्टिफिकेट बनवाने आया था. उसने युवती को गुजरात में अच्छी नौकरी दिलाने का झांसा दिया था.

जानकारी के मुताबिक, 46 वर्षीय नूर आलम उर्फ राहुल सिंह बुधवार को अंबिकापुर जिला कोर्ट पहुंचा. उसके साथ दो युवतियां भी थीं. इनमें से एक युवती को युवक नूर आलम और अन्य युवती ने अहमदाबाद में नौकरी लगवाने का झांसा दिया था. उन्होंने कहा था कि वहां किराए का मकान मिलने में दिक्कत न हो, इसलिए मैरिज सर्टिफिकेट बनवाना पड़ेगा. जिस समय कोर्ट मैरिज के लिए दस्तावेज बनाए जा रहे थे, उस समय युवती ने देखा कि उसका नाम नूर आलम लिखा जा रहा है, ये देख युवती के होश उड़ गए.

इसके बाद युवती ने हंगामा कर दिया. यह बात जब हिंदू संगठनों तक पहुंची, तो वे भी मौके पर पहुंच गए और कोर्ट परिसर के बाहर व्यक्ति की जमकर धुनाई कर दी. सूचना पर पुलिस भी पहुंची और युवती का बयान दर्ज किया. पुलिस ने मामले में जांच के बाद गुरुवार को मानव तस्करी का मामला दर्ज किया है. पुलिस ने आरोपी नूर आलम और एक अन्य युवती को गिरफ्तार कर लिया है.

हिंदू धर्म की पीड़ित युवती ने बताया कि वो कोंडागांव की रहने वाली है. उसने बताया कि कोंडागांव की ही रहने वाली शर्मीली नेताम ने उसका परिचय रामानुजगंज निवासी राहुल सिंह से कराया था. उन्होंने उसे अहमदाबाद में एक कंपनी में अच्छी नौकरी दिलाने का झांसा दिया था. रामानुजगंज निवासी युवक ने अपना नाम राहुल सिंह बताया था. शर्मीली पहले से ही गुजरात में काम करती थी. उसके माध्यम से युवक ने उसे अंबिकापुर कोर्ट में बुलाया था.

बुधवार को जब वह शर्मीली नेताम के साथ कोर्ट पहुंची, तो राहुल सिंह नाम का युवक भी वहां पहुंचा हुआ था. उसने युवती से कहा था कि गुजरात जाना है, इसलिए मैरिज सर्टिफिकेट बनाना पड़ेगा, ताकि उसे अहमदाबाद में किराए का घर मिलने में दिक्कत नहीं हो.

जब कोर्ट मैरिज के दस्तावेज पर नाम टाइप हो रहा था, तो राहुल सिंह की जगह नूर आलम खान लिखा गया. यह देख युवती के भी होश उड़ गए. उसे लगा कि उसके साथ कुछ गलत होने वाला है. सूचना मिलने पर हिंदू संगठन के लोग वहां पर पहुंचे और कोर्ट परिसर के बाहर नूर आलम खान नामक युवक की जमकर धुनाई कर दी.

पिटाई के दौरान उसका मोबाइल भी नीचे गिर गया था, जिस पर बार-बार एक महिला का फोन आ रहा था. जब फोन पर किसी ने महिला से बात की, तो पता चला कि वह नूर आलम खान की पत्नी है और उसके पहले से ही 4 बच्चे हैं. ऐसे में हिंदू संगठन के लोगों ने वहां पर हंगामा कर दिया.

सूचना पर पुलिस भी मौके पर पहुंची और आरोपी को हिरासत में ले लिया गया. गुरुवार को पूछताछ के बाद पुलिस ने आरोपी राहुल सिंह उर्फ नूर आलम खान और पीड़िता को लेकर आई युवती शर्मीली नेताम के खिलाफ धारा 370, 417 व 120 बी के तहत मानव तस्करी का मामला दर्ज किया है. युवक नूर आलम और युवती शर्मीली नेताम को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया गया, जहां से दोनों को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *